Sabaki Rahon Mein Phool Bichhate Hain Shyam Lyrics 


Sabaki Rahon Mein Phool Bichhate Hain Shyam Lyrics 

जय श्री श्याम,
जय श्री श्याम,
श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए,

सबको कष्टों से मुक्ति दिलाते हैं श्याम,
सबकी राहों में फूल बिछाते हैं श्याम,
श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए……

श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए,
सबके मन की व्यथा हरते श्याम धणी,

दूर चिंताओं को करते श्याम धणी,
श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए……

श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए,
घर बच्चों के बाबा पधारेंगे जब,

खोटी किस्मत सभी की संवारेंगे तब,
श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए……

श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए,
हर प्राणी को है बस तुझ से है आसरा,

सूख जाए ना जीवन, तू कर दे हरा,
श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए…….

श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए,
बूँद करुणा की तेरी जो पा जाते हैं,

रंक से पल में राजा वो बन जाते हैं,
श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए……

श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए,
हारे का सहारा, तेरा नाम है,

खाटू नगरी में सांचा तेरा धाम है,
श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए……

श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए,
सबको कष्टों से मुक्ति दिलाते हैं श्याम,

सबकी राहों में फूल बिछाते हैं श्याम,
श्याम बाबा मेरे घर में आ जाइए,
दुख संकट हमारे मिटा जाइए…..

Leave a Comment