सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है | Saavre Se Milne Ka Satsang Hi Bahaana Hai

कृष्ण भगवान का यह अद्बुध भजन “सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है | Saavre Se Milne Ka Satsang Hi Bahaana Hai” Vandana Bhardwaj / Rajesh Lohiya का गाया हुआ है। इस भजन में राधा और श्री कृष्ण के के बिच प्रेम कहानी के बारे में बताया गया है।


सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है लिरिक्स
Saavre Se Milne Ka Satsang Hi Bahaana Hai

सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
चलो सत्संगे में चलें, हमे हरी गुण गाना है ॥

कहाँ कहाँ ढूँढा तुझे, कहाँ कहाँ पाया है ।
भक्तो के हृदय में मेरे श्याम का ठीकाना है ॥

राधा ने पाया तुझे मीरा ने पाया तुझे ।
मैंने तुझे पा ही लिया, मेरे दिल में ठिकाना है ॥

सत्संगे में आ जाओ, संतो संग बैठ जाओ ।
संतो के हृदय में, मेरे श्याम का ठिकाना है ॥

मीरा पुककर रही, आवो मेरे बनवारी ।
विष भरे प्याले को, तुने अमृत बनाना है ॥

शबरी पुककर रही, आओ मेरे रघुराई ।
खट्टे मीठे बेरों का तोहे भोग लगाना है ॥

द्रोपती पुकार रही, आवो मेरे कृष्णाई ।
चीर को बढाना है, तुम्हे लाज को बचाना है ॥

मथुरा में डूंडा तुझे, गोगुल के पाया है ।
वृन्दावन की गालिओ में मेरे श्याम का ठिकाना है ॥

Saavre Se Milne Ka Satsang Hi Bahaana Hai

हमें उम्मीद है की श्री कृष्ण के भक्तो को यह आर्टिकल सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है | Saavre Se Milne Ka Satsang Hi Bahaana Hai + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here