जान रहे ना रहे देश ज़िंदा रहे देशभक्ति गीत लिरिक्स | Jaan Rahe Na Rahe Desh Jinda Rahe Deshbhakti Geet Lyrics

देशभक्ति गीतजान रहे ना रहे देश ज़िंदा रहे देशभक्ति गीत लिरिक्स | Jaan Rahe Na Rahe Desh Jinda Rahe Deshbhakti Geet Lyrics” सुभाष चौधरी जी के द्वारा गाया हुआ है।


Jaan Rahe Na Rahe Desh Jinda Rahe Deshbhakti Geet Lyrics

जान रहे ना रहे देश ज़िंदा रहे,
मौत हो सामने ना डरो,
बचाने में वतन की लाज,
तू लड़ जाना तू मर जाना,
उठा हथियार सीमा पे,
तू लड़ जाना तू मर जाना।।

उठे जो सर खिलाफत में,
उसे धड़ से हटा देना,
वतन की लाज के खातिर,
लहू अपना बहा देना,
सलामत देश को रखना,
तू लड़ जाना तू मर जाना,
उठा हथियार सीमा पे,
तू लड़ जाना तू मर जाना।।

शहीदों की शहादत को,
ये दुनिया याद करती है,
मरे जो देश के खातिर,
तो माँए नाज़ करती हैं,
दहाड़े रण में जो दुश्मन,
तू लड़ जाना तू मर जाना,
उठा हथियार सीमा पे,
तू लड़ जाना तू मर जाना।।

जान रहे ना रहे देश ज़िंदा रहे,
मौत हो सामने ना डरो,
बचाने में वतन की लाज,
तू लड़ जाना तू मर जाना,
उठा हथियार सीमा पे,
तू लड़ जाना तू मर जाना।।

Jaan Rahe Na Rahe Desh Jinda Rahe Deshbhakti Geet Lyrics


हमें उम्मीद है की देशभक्तो को यह आर्टिकल “जान रहे ना रहे देश ज़िंदा रहे देशभक्ति गीत लिरिक्स | Jaan Rahe Na Rahe Desh Jinda Rahe Deshbhakti Geet Lyrics” + Video +Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Jaan Rahe Na Rahe Desh Jinda Rahe Deshbhakti Geet Lyrics ” के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए AllBhajanLyrics.com पर visit करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here